कैल्सियम से भरपूर हैं ये सुपर फ़ूड

0
1096

एक स्वस्थ व्यक्ति को रोजाना 800 से 1000 मिलीग्राम कैल्शियम की ज़रुरत होती है। खासकर हड्डियों, मांसपेशियों और दांतों की मजबूती के लिए। इसके लिए शरीर में कुछ एंजाइम और हॉर्मोंन होते हैं जिसके विकास और रखरखाव के लिए कैल्शियम बहुत जरूरी होता है। जब शरीर में कैल्शियम की कमी होती है तो ब्लडप्रेशर के बढ़ने, मांसपेशियों में शिथिलता ,शारीरिक विकास में अवरोध, दांतों का कमजोर हो कर गिरना, जोड़ों के दर्द और एंठन और टेढ़ीमेढ़ी हड्डियां जैसी परेशानियां शुरू हो जाती हैं। तो ये हैं वो खाद्य पदार्थ जो कैल्शियम की कमी को दूर करेंगे।

Pic: coach


दूध और दूध से बने खाद्य पदार्थ
कैल्शियम का सबसे अच्छा स्रोत दूध को माना जाता है। शरीर में कैल्शियम की कम मात्रा से होने वाले हड्डियों के रोग ओस्टियोपोरोसिस के खतरे से बचना है तो आपको अपने आहार में दूध को भी शामिल करना होगा क्योंकि एक गिलास दूध में करीब 300 ग्राम कैल्शियम होता है इसलिए नियमित रूप से दूध का सेवन करना चाहिए। क्योंकि कैल्शियम के कमी होने पर कई समस्यायों का सामना करना पड़ता है जैसे: कम उम्र में दांत गिरना, कमजोर होना, हाथ-पैर में दर्द रहना आदि।
दूध ही नहीं बल्कि दूध से बने प्रोडक्ट जैसे कि दही इसमें भरपूर मात्रा में कैल्शियम होने के साथ ही इसमें मौजूद जीवाणु हमारे शरीर को इन्फेक्शन से भी बचाते हैं। इसके अलावा पनीर में भी प्रचुर मात्रा में कैल्शियम होता है। वहीँ चीज भी कैल्‍शियम का अच्छा श्रोत है लेकिन इसका सेवन सिमित मात्रा में करना चाहिए नहीं हो मोटापा बढ़ने का भी खतरा रहता है।

Pic: anamikamishra

टमाटर
आपको रोजाना अपने आहार में टमाटर को शामिल करना चाहिए क्योंकि टमाटर में विटामिन सी के साथ ही कैल्शियम की अच्छी मात्रा होती है तो वहीँ इसमें फास्फोरस भी पाया जाता है। टमाटर हड्डियों को तो मजबूत बनाने के साथ ही शरीर में कैल्शियम की कमी को पूरी करता है। डॉक्टर का कहना है कि रोज एक टमाटर खाने से कैंसर होने का खतरा कम हो जाता है।

सोयाबीन
सोयाबीन प्रोटीन का एक मुख्य स्रोत है लेकिन सोयाबीन में भरपूर मात्रा में कैल्शियम भी पाया जाता है। तथा सोयाबीन में दूध के बराबर ही कैल्शियम होता है। इसका मतलब यह हुआ कि जिन लोगों को दूध पसंद नहीं है वो कैल्शियम की पूर्ति के लिए सोयाबीन का इस्तेमाल कर सकते हैं। आपको मार्केट में सोया मिल्क, टोफू और सोया चंक्स के रूप में कई सारे विकल्प मिल जायेंगे। सोयाबीन में प्रोटीन, कैल्शियम के साथ ही फाइबर और विटामिन ई की की अच्ची मात्रा उपलब्ध होती है।

संतरा और आंवला
संतरा और आंवला भी कैल्शियम रिच फूड हैं । इनमें मौजूद तत्व ना सिर्फ हड्डियों को मजबूत बनाने के साथ -साथ शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाने में भी मदद करती है।

हरी पत्तेदार सब्जियां
हरी पत्तियों वाली साग- सब्जियों के खाने से भी कैल्शियम की कमी पूरी हो जाती है। स्वस्थ रहने के लिए नियमित अपने आहार में हरी पत्तेदार सब्जियों को शामिल करें । हरी सब्जियों में आपको बिन्स, गोभी, ब्रोकली और साग में – सरसों, बथुआ और पालक को खाना चाहिए इनका सेवन करेंगे तो शरीर में कैल्शियम की कमी नहीं रहेगी।

Pic: anamikamishra

सूखे मेवे
सूखे मेवे में जैसे : अखरोट, काजू , बादाम, पिस्ता, और चिलगोजा आदि खाना किसे पसंद नहीं होगा ये मेवे स्वाद के साथ ही सेहत से भी भरे होते हैं। इनमे प्रचुर मात्रा में कैल्शियम उपलब्ध होता है। इनका नियमित सेवन करने से हड्डियां मजबूत हो जाती हैं। ल‍ेकिन इसमें वसा की अधिक मात्रा होने के कारण इनका सेवन कम से कम करें।

उम्मीद हैं आप अपने आहार में इन खाद्य पदार्थों को शामिल कर कैल्शियम की कमी को दूर कर पाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here