ठन्डे पानी का सेवन बिगाड़ देगा आपकी सेहत!

0
445

गर्मी के अत्यधिक बढ़ जाने पर सबसे पहले किसी चीज की जरुरत पड़ती है तो वह है पानी। गर्मी के मौसम में लोग चाहें अंदर हों या बाहर, हमेशा ही प्यास लगती है। तमाम लोग अपनी प्यास को बुझाने के लिए पानी का सेवन करते हैं, किन्तु ‘नॉर्मल पानी न पीकर हम इस स्थिति में ठंडा पानी पीना ज्यादा पसंद करते हैं। खूब प्यास लगी हो तो ठंडा पानी किसी अमृत से कम नही लगता है। ठन्डे पानी से शरीर को ठंडक, थकान तथा लू से भी राहत मिलती है।

लेकिन बहुत से लोगों को यह पता नहीं होगा कि ठंडे पानी का सेवन हमारे शरीर के लिए कितना खतरनाक साबित हो सकता है। आज हम बताएँगे कि ठंडा पानी शरीर पर कितना नकारात्मक प्रभाव डालता है।

रोग प्रतिरोधक क्षमता का कम होना
ठंडा पानी पीने से हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता एकदम से कम हो जाती है, जिससे खांसी, जुकाम की समस्या पैदा हो जाती है और छाती में भी कफ बनना शुरू हो जाता है। हमारे शरीर के इम्यून सिस्टम के कमजोर हो जाने के साथ ही अनेक बीमारियों की संभावना बढ़ जाती है।

Pic: continentalhospitals

पाचन क्रिया पर बुरा असर
भोजन के बाद या भोजन के समय कभी भी ठंडे पानी का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि खाना खाते समय ठन्डे पानी को पीने से खाना पचने की समस्या हो जाती है। ठन्डे पानी के सेवन से धमनियां सिकुड़ने लग जाती हैं और ठंडा पानी पीने से पाचन तन्त्र बुरी तरीके से प्रभावित हो जाने के साथ उल्टी, दस्त यानी कि डायरिया, पचने में दिक्कत, पेट में दर्द जैसे अनेक रोगों का सामना करना पड़ता है।

सिरदर्द होना
ज्यादा ठंडे पानी के सेवन से सिर में दर्द शुरू हो जाता है। हालाँकि आप लोग “ब्रेन फ्रिज” के बारे में जानते होंगे जोकि ज्यादातर आइसक्रीम या ठंडे पानी के सेवन से होता है। ज्यादा ठंडा पानी पीने से ब्रेन की स्पाइन नसों के भी ठंडा होने के कारण यह ब्रेन पर असर डालती है, इसलिए यह सिर दर्द की वजह बन जाता है।

दिल की समस्या
ज्यादा ठंडा पानी पीना हमारे दिल के लिए भी नुकसानदायक होता है क्योंकि हमारे बॉडी में एक नर्व होती है, जिसका नाम वेगस है। यह नर्व शरीर के अंगों जैसे हार्ट, लंग्स और डाइजेस्टिव सिस्टम को कंट्रोल करती है। अधिक ठंडा पानी पीने से नर्व भी ठंडी होकर दिल की धड़कनों को धीमा कर देता है तथा इससे रक्त वाहिनियां भी सिकुड़ जाती हैं और कभी -कभी ब्लड फ्लो में दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है।

Pic: indiatvnews

कब्ज़ की परेशानियां
देखा जाता है कि जो लोग ज्यादा ठंडा पानी पीते है उन्हें हमेशा कब्ज की शिकायत रहती है। क्योंकि ठन्डे पानी से भोजन पचने में परेशानी होती है। यह खाए हुए खाद्य – पदार्थों को कठोर बना देता है, इसलिए आगे चलकर कब्ज तथा बवासीर जैसी बीमारियाँ पैदा हो सकती हैं।

वजन का बढ़ जाना
ठंडे पानी के सेवन से मोटापा बढ़ जाता है, क्योंकि यह बॉडी में चर्बी को और कठोर तथा सख्त बनाता है। इसी कारण दिन-प्रतिदिन वजन बढ़ता जाता है। इस बात का ध्यान रहे कि जब कभी आप अपना मोटापा कम करने की सोच रहे हैं, तो ठंडे पानी का सेवन बंद करके आपको हमेशा गर्म या गुनगुने पानी का सेवन करना चाहिए।

Pic: sansaninews

आलस तथा थकान महसूस होना
ज्यादा ठंडा पानी पीने से आपको दिन भर थकान व आलस महसूस होता है। ठंडे पानी का तापमान बहुत कम तथा शरीर का तापमान ज्यादा होने के कारण शरीर में आलस या थकान महसूस होने लगती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here